Shayari , हिंदी शायरी , Hindi shayari , attitude status , whatsapp status , funny jokes , good morning message

Sunny Deol Whatsapp Jokes

Kashinath Vs Katiya Jokes

My Dad is my bahubali
My Dad Is My Bahubali Jokes

कातिया : काशिनाथ हमें खुशी हुई तुम्हारा जीमण देखकर
तुम्हे भी खुशी होगी ये जानकर के आज के बाद तुम हमारे साथ जीमने चलोगे
😄😄😄😄
काशिनाथ : ये तेरे बाप का बियाव  नही है कातिया😡
😜😜जीमते है खुद के दम पर। हमारी भूख कोई पाउडर हाउडर से बनाई हुई नहीं है
😁😁😁😁
मुझे जीमने के लिए बीयर पिने की भी जरुरत नहीं है कातिया😡

कातिया :दिखावटी व ज्यादा जीमने से अच्छा है तुम बियर पीकर जीमो शेर की तरह।🐅

काशिनाथ :  बियर पीकर जीमने से अच्छा है में मजदूरी करके जीमु। कातिया
😎😎😎😎
तु चाहता है कि में बियर पीकर जीमने से ब्याण जी के सामने दारूडिया घोषित हो जाऊ
तू कहे तो चक्की खाउ।
तु कहे भुजिया खाउ।
तू कहे तो पूड़ी ज्यादा रखवाऊ।
तू कहे तो दाल पिऊ।
तू कहे तो रायता पिऊ।
तू कहे तो जोधपुर वाले DJ पर नाचूँ
😃😃😃
कातिया : ऐसा ही समझो👺
तो क्या हुआ बियर पीकर जिमोगे तो जीमने में मदद मिलेगी।
दो पूड़ी बत्ती खा सकते हो।👺
रायता पि सकते हो👺
बॉडी बनेगी तुम्हारी
तुमारी नाचने की तागत बढ़ेगी
और लोग डरेंगे तुमसे
😖😖😖😖
काशिनाथ : बियर पीकर वो बॉडी बनाता है जिसकी ज्यादा खाने की ओकात नही।
जीमने का इतना ही शौक है तो बियर पीना छोड़ दे कातिया।
 😜😜😜 आखातीज स्पेशल
Click Here To Follow Our Facebook Page
_____________________________________________

✏धयान से पढ़ना आँखों में पानी आ जाएगा.


बड़े गुस्से से मैं घर से चला आया ..

इतना गुस्सा था की गलती से पापा के ही जूते पहन के निकल गया
मैं आज बस घर छोड़ दूंगा, और तभी लौटूंगा जब बहुत बड़ा आदमी बन जाऊंगा ...

जब मोटर साइकिल नहीं दिलवा सकते थे, तो क्यूँ इंजीनियर बनाने के सपने देखतें है .....
आज मैं पापा का पर्स भी उठा लाया था .... जिसे किसी को हाथ तक न लगाने देते थे ...

मुझे पता है इस पर्स मैं जरुर पैसो के हिसाब की डायरी होगी ....
पता तो चले कितना माल छुपाया है .....
माँ से भी ...

इसीलिए हाथ नहीं लगाने देते किसी को..

जैसे ही मैं कच्चे रास्ते से सड़क पर आया, मुझे लगा जूतों में कुछ चुभ रहा है ....
मैंने जूता निकाल कर देखा .....
मेरी एडी से थोडा सा खून रिस आया था ...
जूते की कोई कील निकली हुयी थी, दर्द तो हुआ पर गुस्सा बहुत था ..

और मुझे जाना ही था घर छोड़कर ...

जैसे ही कुछ दूर चला ....
मुझे पांवो में गिला गिला लगा, सड़क पर पानी बिखरा पड़ा था ....
पाँव उठा के देखा तो जूते का तला टुटा था .....

जैसे तेसे लंगडाकर बस स्टॉप पहुंचा, पता चला एक घंटे तक कोई बस नहीं थी .....

मैंने सोचा क्यों न पर्स की तलाशी ली जाये ....

मैंने पर्स खोला, एक पर्ची दिखाई दी, लिखा था..
लैपटॉप के लिए 40 हजार उधार लिए
पर लैपटॉप तो घर मैं मेरे पास है ?

दूसरा एक मुड़ा हुआ पन्ना देखा, उसमे उनके ऑफिस की किसी हॉबी डे का लिखा था
उन्होंने हॉबी लिखी अच्छे जूते पहनना ......
ओह....अच्छे जुते पहनना ???
पर उनके जुते तो ...........!!!!

माँ पिछले चार महीने से हर पहली को कहती है नए जुते ले लो ...
और वे हर बार कहते "अभी तो 6 महीने जूते और चलेंगे .."
मैं अब समझा कितने चलेंगे

......तीसरी पर्ची ..........
पुराना स्कूटर दीजिये एक्सचेंज में नयी मोटर साइकिल ले जाइये ...
पढ़ते ही दिमाग घूम गया.....
पापा का स्कूटर .............
ओह्ह्ह्ह

मैं घर की और भागा........
अब पांवो में वो कील नही चुभ रही थी ....

मैं घर पहुंचा .....
न पापा थे न स्कूटर ..............
ओह्ह्ह नही
मैं समझ गया कहाँ गए ....

मैं दौड़ा .....
और
एजेंसी पर पहुंचा......
पापा वहीँ थे ...............

मैंने उनको गले से लगा लिया, और आंसुओ से उनका कन्धा भिगो दिया ..

.....नहीं...पापा नहीं........ मुझे नहीं चाहिए मोटर साइकिल...

बस आप नए जुते ले लो और मुझे अब बड़ा आदमी बनना है..

वो भी आपके तरीके से ...।।

"माँ" एक ऐसी बैंक है जहाँ आप हर भावना और दुख जमा कर सकते है...

और

"पापा" एक ऐसा क्रेडिट कार्ड है जिनके पास बैलेंस न होते हुए भी हमारे सपने पूरे करने की कोशिश करते है.......Always Love Your Parents💕
अगर दिल के किसी कोने को छू जाये तो फोरवर्ड जरूर करना .  अगर ज़्यादा अच्छा लगे तो मुझे बी सेंड करना आप का अपना दोस्त
_____________________________________________

पहली बार किसी कविता को पढ़कर आंसू आ गए ।😔😔


*दुध पिलाया जिसने छाती से निचोड़कर*
*मैं* *"निकम्मा, कभी 1 ग्लास पानी पिला न सका ।* 😭

*बुढापे का "सहारा,, हूँ* *"अहसास" दिला न सका*
*पेट पर सुलाने वाली को* *"मखमल,* *पर सुला न सका ।* 😭

*वो "भूखी, सो गई "बहू, के "डर, से एकबार मांगकर*
*मैं "सुकुन,, के "दो, निवाले उसे खिला न सका ।*😭

*नजरें उन "बुढी, "आंखों से कभी मिला न सका ।*
*वो "दर्द, सहती रही में खटिया पर तिलमिला न सका ।* 😔

*जो हर "जीवनभर" "ममता, के रंग पहनाती रही मुझे*
*उसे "दिवाली  पर दो "जोड़ी, कपडे सिला न सका ।* *😭*

*"बिमार बिस्तर से उसे "शिफा, दिला न सका ।*
*"खर्च के डर से उसे बड़े* *अस्पताल, ले जा न सका ।* 😔

*"माँ" के बेटा कहकर "दम,तौडने बाद से अब तक सोच रहा हूँ*,
*"दवाई, इतनी भी "महंगी,, न थी के मैं ला ना सका* । 😭

*माँ तो माँ होती हे भाईयों माँ अगर कभी गुस्से मे गाली भी दे तो उसे उसका "Duaa"* *समझकर भूला देना चाहिए*|✨,, ✨

*मैं  यह वादा करता  अगर यह पोस्ट आप दस ग्रुप मे भेजोगे तो कम से कम दो लड़के ईस पोस्ट को पढ कर अपनी माँ के बारे मे सोचेंगे जरुर!!!!!!!!* 😔


.....इसे  मेसेज  को   हर  ग्रुप  मे  भेजो ....जिसने    नही   भेजा  वो   💕" माँ "💕  से   प्यार   नही   करता  ह  .)💙
_____________________________________________

एक आदमी की कार पार्किंग से चोरी हो गयी। दो दिन बाद देखा तो कार वापस उसी जगह पार्किंग में ही खड़ी थी।


अंदर एक लिफाफा था उसमे एक माफीनामा था...

*"माँ की तबियत अचानक बिगड़ जाने से रातों रात बड़े अस्पताल लेकर जाना आवश्यक था।*

*लेकिन इतनी रात में और छुट्टियों के सीजन में गाडी मिली नहीं इसी वजह से आपकी गाड़ी को उपयोग में लेना पड़ा।*

*आपको तकलीफ देने के लिये खेद है....गाडी में जितना पेट्रोल था उतना ही है। उसका लाक भी ठीक करा दिया है |*

*आपको गाड़ी की मदद के एवज में कल रात "बाहुबली 2" सिनेमा की 5 टिकेट्स आपके परिवार के लिए कार में रखें हैं।*

*मुझे बड़े दिल के साथ माफ़ करिये ये विनती है आपसे..!!*

चिट्ठी में स्टोरी ओरिजिनल लगने से और गाड़ी जैसी की तैसी वापस सही सलामत मिलने से परिवार शांत हो गया और दूसरे दिन "बाहुबली 2" देखने चला गया 4परिजन और एक मित्र; आखिर 6 लाख की गाड़ी वापस जो मिल गयी थी |

फिल्म देखकर रात को वापस लौटा तो घर का दरवाजा टूटा हुआ था। अंदर जाकर देखा तो सब कीमती सामान गायब था।
करीब 25-30 लाख की चोरी हो गयी थी |

बाहर टेबल पर एक लिफाफा था, जिसमे लिखा था,

*“अब पता चला कि कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा..??”*
😀😀😀

No comments:

Post a Comment