Shayari , हिंदी शायरी , Hindi shayari , attitude status , whatsapp status , funny jokes , good morning message

Modern whatsapp Shayari Hindi Shayari

TOP New Attitude Shayari in Hindi for Boys & Girls - Hindi Shayari



1.🚶🚶लड़को का तो 😎System ही Out Of Control ✔ हो जाता है..
👆जब उन्हे किसी 🙎🙎लड़की से ✔ सच्चा प्यार हो जाता है...
_____________________________________________
2.💞समय के एक तमाचे की देर है प्यारे, 
मेरी फ़क़ीरी भी क्या, तेरी बादशाही भी क्या....!

💎〰〰🖌indianhindishayri.blogspot.in
_____________________________________________
3.💞सौ बार चमन महका, सौ बार बहार आई, 
दुनिया की वही रौनक, दिल की वही तन्हाई..
〰〰🖌Dr.strange ap
_____________________________________________
4.*✨🔺पीना तो मुझे आता भी नहीं था ..,*
🍷🍾🍷
*वो तो तेरी दो पल कि मोहब्बत ने मुझे शराबी बना दिया ..!🔻✨*
_____________________________________________
5.मैं ज़िन्दा हूँ ये मुश्तहर कीजिए
मेरे क़ातिलों को ख़बर कीजिए

ज़मीं सख्त है, आसमाँ दूर है
बसर हो सके तो बसर कीजिए

सितम के बहुत से हैं रद्दे-अमल
ज़रूरी नहीं चश्म तर कीजिए

वही ज़ुल्म बारे-दिगर है तो फिर
वही ज़ुर्म बारे-दिगर कीजिए

क़फ़स तोड़ना बाद की बात है
अभी ख़्वाहिशे-बालो-पर कीजिए





6.अपनी मर्ज़ी से कहाँ अपने सफ़र के हम हैं
रुख़ हवाओं का जिधर का है, उधर के हम हैं

पहले हर चीज़ थी अपनी मगर अब लगता है
अपने ही घर में, किसी दूसरे घर के हम हैं

वक़्त के साथ है मिट्टी का सफ़र सदियों से
किसको मालूम, कहाँ के हैं, किधर के हम हैं

जिस्म से रूह तलक अपने कई आलम हैं
कभी धरती के, कभी चाँद नगर के हम हैं

चलते रहते हैं कि चलना है मुसाफ़िर का नसीब
सोचते रहते हैं, किस राहगुज़र के हम हैं,,,,,





7.पुराने शहरों के मंज़र निकलने लगते हैं 
 ज़मीं जहाँ भी खुले घर निकलने लगते हैं 
 मैं खोलता हूँ सदफ़ मोतियों के चक्कर में 
 मगर यहाँ भी समन्दर निकलने लगते हैं 
 हसीन लगते हैं जाड़ों में सुबह के मंज़र 
 सितारे धूप पहनकर निकलने लगते हैं 
 बुरे दिनों से बचाना मुझे मेरे मौला 
 क़रीबी दोस्त भी बचकर निकलने लगते हैं 
 बुलन्दियों का तसव्वुर भी ख़ूब होता है 
 कभी कभी तो मेरे पर निकलने लगते हैं 
 अगर ख़्याल भी आए कि तुझको ख़त लिखूँ
 तो घोंसलों से कबूतर निकलने लगते हैं ...!!

🙏🏻🙏🏻🌷 शुभ सन्ध्या 🌷🙏🏻🙏🏻
_____________________________________________
8.कहाँ चले जाते हो हमे यूँ ऑनलाइन छोड़ कर
शायद तुमको पता नही की मेरी शायरी हो तुम।।
_____________________________________________
9.अगर सलीक़े से तोड़ता वो मुझे..

मेरे टुकड़े भी उसके काम आते..!
_____________________________________________
10.जज्बात कहते हैं खामोशी मे बसर हो जाये..
दर्द की जिद हैं दुनिया को ख़बर हो जाये..!
_____________________________________________
11.मुझे 😎देखना है ☝�तो प्यार से देख😍 पगली👩🏼,....,
एसे गुस्से😡 में तो तेरे घरवाले 👨‍👨‍👧‍👦भी देखते है 😉!!
_____________________________________________
12.कभी सोचा😔 नही ❌था वो 👰भी मुझे😎 तनहा कर जाएगी..😢
जो👆 परेशांन देख कर अक्सर कहती थी..."मैं👰 हूँ ना",,,,,👌♍💔👱🏻‍♀️
_____________________________________________
दोस्तों लाइक करो हमारे ब्लॉग को और सब्सक्राइब करो

1 comment:

  1. दोस्तों शेयर करो हमारी लिंक को

    ReplyDelete