Bewafa Shayari

Hindi Shayari For Bewafa


बेवफा शायरी

1. 💚💛💜यूँ जमीन पर बैठकर क्यो आसमान देखता है। 
परों को खोल जमाना सिर्फ़ उडान देखता है। (Hindishayar.com)


2. 💚💛💜सीखा है हमने जिंदगी से एक तजुर्बा
जिम्मेदारी इन्सान को वक़्त से पहले बड़ा बना देती है (Hindishayar.com)


3. 💚💛💜जिन्हें..... सांसो की महक से...... इश्क महसूस ना हो............
.....वो गुलाब देने भर से....... हाल-ए- दिल को क्या समझेंगे....💖⚡☺ (Hindishayar.com)


4. 💚💛💜एक दिन, मेरी आँखों ने भी थक कर मुझसे कहदिया,
ख्वाब वो देखा करो जो पूरे हो, रोज-रोज हमसे भी रोया नही जाता..!! (Hindishayar.com)


5. 💚💛💜!! तुम क्या हो मेरे !!
!! कुछ हो या कुछ भी नहीं !!
!!      मगर.   !!
!! मेरी ज़िन्दगी की काश में एक काश तुम भी हो...!! (Hindishayar.com)


6. 💚💛💜क्या वजह है जो तू उदास रहने लगी है...

सवाल कई हैं मगर तू खामोश रहने
लगी हैं.... (Hindishayar.com)


7. 💚💛💜मैं वो काम नही करता जिससे ख़ुदा मिले...

लेकिन वो काम ज़रूर करता हुँ जिससे दुआ मिले...!!! (Hindishayar.com)


8. 💚💛💜मे तोड़ लेता अगर तू गुलाब होती मे जवाब बनता अगर तू सबाल होती सब जानते है मैं नशा नही करता मगर में भी पी लेता अगर तू शराब होती (Hindishayar.com)


9. 💚💛💜इंतज़ार की आरज़ू अब खो गयी है खामोशियो की आदत हो गयी है न सीकवा रहा न शिकायत किसी से अगर है तो एक मोहब्बत जो इन तन्हाइयों से हो गई है.. (Hindishayar.com)


10. 💚💛💜हमने भी कभी प्यार किया था थोड़ा नही बेशुमार किया था दिल टूट कर रह गया जब उसने कहा अरे मैने तो मज़ाक किया था… (Hindishayar.com)


11. 💚💛💜जब खुदा ने इश्क बनाया होगा तब उसने भी इसे आजमाया होगा.. हमारी औकात ही क्या है कमबख्त इश्क ने तो खुदा को भी रुलाया होगा (Hindishayar.com)


12. 💚💛💜याद तेरी आती है क्यो.यू तड़पाती है क्यो दूर हे जब जाना था.. फिर रूलाती है क्यो दर्द हुआ है ऐसे जले पे नमक जैसे. खुद को भी जानता नही तुझे भूलाऊ कैसे (Hindishayar.com)


13. 💚💛💜तुझे चाहा भी तो इजहार न कर सके कट गई उम्र किसी से प्यार न कर सके तुने माँगा भी तो अपनी जुदाई मांगी और हम थे की इंकार न कर सके (Hindishayar.com)


14. 💚💛💜आज हम उनको बेवफा बताकर आए है उनके खतो को पानी में बहाकर आए है . कोई निकाल न ले उन्हें पानी से… इस लिए पानी में भी आग लगा कर आए है (Hindishayar.com)


15. 💚💛💜जब से देखा है तेरी आँखों मे झाक कर कोई भी आईना अच्छा नहीं लगता तेरी मोहब्बत मे ऐसे हुए हैं दीवानें तुम्हें कोई और देखें अच्छा नहीं लगता... ... (Hindishayar.com)


Like share & subscribe 🙌

Comments